बीमा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) 49% से बढ़कर 74% हुआ

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को आम बजट पेश किया। वित्तमंत्री ने बीमा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश को बढ़ाकर 74 फीसदी कर दिया है। अभी तक बीमा कंपनियों में 49 फीसदी प्रत्यक्ष विदेशी निवेश का प्रावधान था।इससे पहले मार्च 2016 में बीमा कंपनियों में FDI 26% से बढ़ाकर 49% किया गया था। वित्तमंत्री 2021-22 में इंश्योरेंस कंपनी एलआईसी का आईपीओ यानी इनीशियल पब्लिक ऑफरिंग लाने की घोषणा की है. वित्त मंत्री ने बजट भाषण में कहा कि सरकारी बीमा कंपनियों भारतीय जीवन बीमा निगम को शेयर बाजार में सूचीबद्ध किया जाएगा।

बता दें कि पिछले कई दिनों से सरकार द्वारा एलआईसी में आईपीओ लाने के लिए कोशिशें जारी थी. आज वित्तमंत्री ने इसको लेकर औपचारिक घोषणा कर दी। जानकारों की माने तो यह देश का सबसे बड़ा आईपीओ साबित हो सकता है। इंश्योरेंस सेक्टर के रेगुलेटर आईआरडीए ने सरकार के इस कदम का समर्थन किया है।

मीडिया छात्र